Загрузка...

क्या तेरा-मेरा में फंस गया Maharashtra का 'मुख्यमंत्री' ? देखिए आज का Kurukshetra

  • 🎬 Video
  • ℹ️ Description
Watch the Latest Hindi News Live TV Channel: Most Subscribed News Channel on YouTube.

India TV is a Hindi News channel: India TV is country's most trusted Hindi News Channel. India TV covers latest news in Politics, Nation, World, Entertainment, Bollywood, Business and Sports categories and delivers reliable information across all platforms - TV, Internet and Mobile. Stay tuned for India TV's flagship programmes like Aap ki Adalat With Rajat Sharma, Aaj Ki Baat etc.

#HindiNews #TrendingNews #BreakingNews
#IndiaNews #HindiSamachar #LatestNews
#AapKiAdalat #IndiaTV


Follow Us On: IndiaTV

Download India TV Mobile News App for Apple:
Download India TV Mobile News App for Android:



Download — क्या तेरा-मेरा में फंस गया Maharashtra का 'मुख्यमंत्री' ? देखिए आज का Kurukshetra

Download video
💬 Comments on the video
Author

अनंत तरे जी ईमानदार आदमी है, लेकिन संजय राउथ गद्दारी की है हिंदू समाज से क्यू की कांग्रेस ओर पप्पू खान और उनकी सपोर्टर गद्दार आतंकवादी संगठन है

Author — Jaydeep जयश्री Ram

Author

शिव सेना का दोगला पन सामने है आज शिव सेना का नेता गिड़गिड़ाने लग रहा।
अब भाजपा को ऐसे लोगों को साथ नहीं लेना चाहिए । ऐसे लोगों को औकात बता दें भाजपा के नेता।

Author — Pradeep Mishra

Author

जुगाड वाली पाच साल तक चलती नही है. शरद पवार सुंड है.

Author — Arjun Barkade

Author

भारत के सभी नेताओ ने जनता की सेवा के लिए जनम लिया है. जनता की सेवा करने के लिए बेचारे सब के सब जी तोड मेहनत करते है. चाहे उनको सरकारी महलो मे रहना पडे, साजोसामान, 10 10 गाडीया रखनी पडे, जनता के पैसेपर जीना पडे यह सब बिचारे जनता की सेवा के लिए करना पडता है, फिर भी इतनी मेहनत करते है सिर्फ जनता की सेवा मे.कितने सारे तो पिढीयोसे करते आ रहे है.

Author — Vijaya Dongre

Author

शिव सेना का की हालत 👇👇👇
अंदर गये तो भंडारा खतम
बाहर निकले तो चप्पल गायब 😭😭😭😭

Author — Jenny S

Author

Ham bjp+shivsena se request karate aap samjhota karake sarkar banaye

Author — Yogesh Gupta

Author

There is a saying in Marathi:
Teen Tigada, Kam Bigada.

Author — zenmilind

Author

Shivsena+bjp se acha sarkar koi nahi hai

Author — Yogesh Gupta

Author

AAP aapne chanal par ak voting show karaye ki janta kya chahti hai kisaki sarkar bane co+ncp+ shivsena ya bjp+shivsena

Author — Yogesh Gupta

Author

Kash ye neta desh hit ki sochte... bash in logo ko apna fayada k alawa kuch b nhi dikhta.

Author — Suraj Rawat

Author

Anant tare ji, Aap mahan hai. Apke vichar sarahniya hai. Jab tak aap jaise neta hai. Shivsena majboot rahegi. Hum chahte hai aap dono party ek ho jao.

Author — hemraj mishra

Author

Ye Sanjay Jha to gaddar hai sala kya hua Sanjay sale 44 pe aa gaya chunav se pahale Bol raha tha ki congress ki satta me aaye gi congress ko Maharashtra ki janta ne jute maar kar nikal diya

Author — gopi jhawar

Author

Maharashtra mein khaladi BJP hai, ncp hai, aur Congress hai.

Author — Healthy Raho surender singh

Author

Shiv Sena is Corrupt and greedy. They will suffer greatly for what they have tried to do. One can never trust it.

Author — Chandra Shivpuri

Author

Regionally mushroomed parties that have blossomed due to worst governance and cunning practices of dynasty rulers of political gang of congress to uphold their own upper hand and filthy thoughts in every field of political, social, j udicial, administrative, ethical and economical filty policies; have always proved to be sheer blakmailors. This is very gruesome situation in the political arrena of the country and going to damage and ruin this country badly.

Author — ashokkumar Verma

Author

सुधान्सु जि ! ए नयेँ भारत, उसमे भि मोदिराजमे तोह यैसी बहकी-बहकी बात कतै नहि चलेगा औंर चल्ना भि नहि चाहिए । यिसिलिए तोह मोदि न बिजेपी यित्ने जल्दी सब्से पसन्दिदा पाटी/नेता बना ।
मुछ पुरा नहि आए बेटाको एकाएक मुख्यमन्त्री ?! ओ भि सभी हदे पार कर्के जाना तोह ठिक था मगर यैसे-उईसे बकवास ईल्जाम लगाना, ये तोह कभी भि नहि चल्ना चाहिए । नहिं तोह ! क्यु नयेँ भारत ? क्यु बिजेपी/मोदि ?? कंग्रेस हि काफी था । सब्से भ्रष्ट/गद्दार औंर औंशरबादी ठाक्रे/ठाक्रेपरिवारको NCP/कंग्रेसको गोधमे छोडकर कोहि भि निहत्ते सेना आना चाहते तोह भब्य/दिब्य स्वागत के साथ गले लगाना, सुरक्षा देना, औंसत हिसाबमे से खुदको कम कर्के कुच ज्यादा हि भाग देना, बडे-भाई/गार्जनकी सब्से बडा फर्ज होता है । अप्ना बेटा नहि तोह कुच नहि, उप-मुख्यमन्त्री माङ्नेकी बात छोडो, देने मन होतेहुँवे भि बिजेपिने देना नहि पाया । अभि मुछ अच्छा से पला नहि बेटेको एकाएक मुख्यमन्त्री चाहिए । "सेना" नाम देके यिन बिचारेको कित्ना घुटनमे दबा-कुच्ला के रखे है ? जो कोहि समझ सक्ते है । गुलाम का तोह खाना/दाना/उनके ईछ्या सबका कदर होता है, मगर यहाँ तोह भ्रष्ट/क्रुर ठाक्रेपरिवार ने अप्ना स्वार्थके लिए यिनका बिचार/ईछ्या सब-कुच तिलान्जली पुरा कृतिम मानब रबर्ट बनाके रखे है ।

Author — Dilip Begha

Author

लगता है कि राऊत को नर्स ने दवा मे भांग डाल कर पिला दी है ।कुछ भी बक रहा है 🙁🙁😂😂

Author — Jenny S

Author

ऐसा कोई नागरिक नहीं जिसको कांगरेस ने लूटा नहीं ।।

Author — Kamlesh Pandey

Author

बीजेपी ने जो वचन दिया था वह किसी ने देखा या सुना है क्या शिवसेना सता के लिए झूठ बोल भी सकता है ।

Author — ramotar agarwal

Author

ये मोदिका बिजेपी नहि है । यैसे घटिया, जो झाडु लगाने किचड खुद उडगए तोह लम्बा स्वास लेके चैन से सोना का उल्टा फिर किचड लेके खुदको बर्बादिका बात कैसे कर रहे है ? सत्ता/कुर्सी हि सब थोक है क्या ?? 44 सिटे कंग्रेस सोनियाने खुदको मजाक बनाना, सरकार गिराने/तोड्ने कि लम्बे समय से लग्ते आ-रहे आरोपको मोहर लगाने अबिस्वास प्रताब लाया था क्या ? 273 कटाना 44 कित्ना चाहिए ? सिधी-सिधी भौंडिमे जम्प मार्के आत्महत्या कराना था क्या कंग्रेसको ? सब्से पुराने सत्ताके खेलाडी कंग्रेस पाटी ! उसमे भि सोनिया जैसी एणा बन्के पेणा खाने महारथ पास सोनियाको अबिस्वास प्रस्ताब पता नहि था ?!! 273 कटाने 44 मे से यैसे/यैसे कर्के कटेगा । पुरा फर्मुला/गणित बार-बार सम्झाने का बाद हि अबिस्वास प्रस्ताब दर्ता किया था । उस वक्त तुरुन्त पत्रकारोने प्रश्न किया - यैसे कैसे ?" सोनियाने भि आत्मबिस्वास के साथ बोलि थि -"किस्ने बोला हमारे पास 273 से ज्यादा नम्बर नहि है ? सबर करो, भोटिङ्ग टाईममे देख पाओगे"
ये आत्मबिस्वास औंर 44 को 273 से ज्यादा बनानेका फर्मुला औंर हिसाब बार/बार सिद्द कर्के, सोनियाको निरधक्क बनाके अबिस्वास प्रताबके झोला भिराके भेज्ने ! पर्दे पिछेका हिरो यिसि घटिया ठाक्रे था । कंग्रेस/टिएमसी किसि भि बिरोधिने हिम्मत नहि किये शब्द ढुन-ढुन के ए घटिया ठाक्रेने मोदिको देता था, गल्लिमोहल्ला घुन-घुमके मोदिको मजाक बनाके उडाता था, अराफ/सराफ बक्ते थे । अबिस्वास प्रस्ताब के बात पता चला ये तोह ठाक्रेने अप्ना भोटररौंको सरप्राईज देख्के हाट-ह्याट्याक ना हो, ज्यादा दुख नामाने, यिसि लिए ठाक्रे ने तोह भोलेभाले अप्ना भोटरौंको तयार कर रहे रिहल्सल था । यैसे दुनियाँके सब्से बडा ठाक्रे न ठाक्रे-परिवार !? दुर रहेना हि बिजेपी न मोदि ! सबका भलाई है । सुरुवात गुण्डागर्दी से, बातमे बिजेपिको बगलमे छुपके महाराष्ट यित्ना ब्रमलुट किया, साईबाबा क्या साईबाबा !? सेना नामकी यिसकी गुलाम से भि क्यै निचे रबर्ट कि तरह बनाके रखे उन बिचारे सेनाके लिए ये घटिया ठाक्रे/ठाक्रेपरिवार त साक्षात भगवान शिवजी-महाराज से भि बडा समस्ता है । ठाक्रे/ठाक्रेपरिवार ने बोले तोह निचे/पिचे चाट्ना/मोल्ना, मलमुत्र खाना कुच भि, कभी भि हमेसा तयार । ब्रमलुट किये पैसा के रबाफमे दबाए सेनाको कोहि गल्ती नहि । अप्ना गद्दार महाराज ठाक्रेको छोडके आना चाहते है तोह एकदम जोर से स्वागत औंर सेफ रख्ना बिजेपिको फर्ज बन्ता है मगर यैसे घटिया औंशरबादी नयेँ भारत न मोदिको कभी भि मन्जुर नहि होना चाहिए । नहि तोह बिजेपी न नयेँ भारत !

Author — Dilip Begha